शिक्षित बेरोजगार संघ पीपलखूंट ने मुख्यमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन, नॉन टीएसपी शिक्षकों को उनके गृह जिले में भेजने की करी मांग

आज दिनाक 18 अक्टूबर 2021 को शिक्षित बेरोजगार संघ पीपलखूंट ने उपखण्ड कार्यालय पीपलखूंट में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नाम सौपा ज्ञापन।
2500 से अधिक नॉन टीएसपी कर्मचारी (अध्यापक) टीएसपी क्षेत्र में कार्यरत हैं उन्हें अपने अपने गृह जिले में भेजकर तथा ( इन 2500 से अधिक) सीटों को टीएसपी क्षेत्र की सीटों के साथ सृजित करने की मांग करी।
शिक्षित बेरोजगार युवाओं ने ज्ञापन देते हुए निम्न मांगे रखी है-
1. रीट के अभ्यर्थी पिछले तीन सालों में घर परिवार छोड़कर दुर रहकर अपनी तैयारी कर रहे थे उनके साथ कई मुश्किल परिस्थितियों का सामना किया उन्होंने अपनी तैयारी में कमी नहीं छोडी परन्तु टीएसपी क्षेत्र में सीटे कम होने से उनका भविष्य अंधकार में हैं उन्हें नॉन टीएसपी की 2500 से अधिक अध्यापक कार्यरत हैं उनको बाहर भेजकर यहाँ के शिक्षित बेरोजगारों को अवसर दिया जाए ।
2. रीट के तैयारी कर रहे अभ्यर्थी लम्बे समय से इन्तजार कर रहे है रीट परिक्षा का आयोजन हो। तथा रीट 2021 में आयोजित हो गई हैं बल्कि शिक्षित बेरोजगारों की जो आवश्यकता थीं वह नहीं हो पा रही हैं सरकार इन्हे अमल में ले ।
13. नॉन टीएसपी के लगभग 2500 3000 पदों में पर कार्यरत कर्मचारी ( अध्यापकों) को रिक्त मानकर के टीएसपी क्षेत्र में इन पदों को जोड़कर / सृजित कर यहाँ के भावी युवाओं शिक्षित / शिक्षित बेरोजगार को रीट 2021 का लाभ दिया जाए ।
4. यह प्रक्रिया सरकार के द्वारा तत्काल प्रभाव से ध्यान में रखकर अमल में लागू कीया जाए नही तो दिनांक 20/10121 तक उग्र आन्दोलन व धरना प्रदर्शन किया जायेगा जिसकी जन हानी होती हैं तो समस्त जिम्मेदारी राजस्थान सरकार की होगी ।
इस दौरान  रकमेश्वर, राजकुमार, दिलीप मईड़ा, रामलाल,संजय निनामा,मोहनलाल, कमलाशंकर, संजय,रामलाल,विजय मईड़ा व कई बेरोजगार युवा उपस्थित रहे।

0 Comments