लोकल स्पेशल:-जल जीवन मिशन : उदयपुर में सोम कमला अम्बा बांध से 164 गांवों में 26 हजार 41 ‘हर घर नल कनेक्शन‘ के लिए 112.28 लाख रुपये की स्वीकृति

उदयपुर। जल जीवन मिशन (जेजेएम) अन्तर्गत राज्य स्तरीय योजना स्वीकृति समिति (एसएलएसएससी) की बैठक जन स्वास्थ्य अभियान्ति्रकी एवं भू-जल विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव (एसीएस) श्री सुधांश पंत की अध्यक्षता में शुक्रवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग (वीसी) के माध्यम से आयोजित की गई। बैठक में प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में रेग्यूलर विंग एवं मेजर प्रोजेक्ट्स के तहत 203.83 करोड़ रुपये की लागत से 145 परियोजनाओं की स्वीकृति दी गई। इससे 173 गांवों में 38 हजार 503 ‘हर घर नल कनेक्शन‘ दिए जाएंगे। इसके अलावा बैठक में मेजर प्रोजेक्ट्स के तहत चितौड़गढ़ एवं उदयपुर में सर्वे और डीपीआर तैयार करने के दो कार्यों के लिए 268.60 लाख रुपये के प्रस्ताव तथा जेजेएम की वार्षिक योजना के तहत सपोर्ट गतिविधियों के लिए 297.55 करोड़ के प्रस्तावों का भी अनुमोदन किया गया।
एसीएस श्री  पंत ने बताया कि बैठक में रेग्यूलर विंग के तहत धौलपुर के 36 गांवों लिए 47 करोड़ रुपये की लागत से 29 ग्रामीण योजनाओं की स्वीकृति दी गई, इससे 9 हजार 673 ‘हर घर नल कनेक्शन‘ दिए जाएंगे। झालावाड़ में 34 गांवों लिए 24.49 करोड़ रुपये की लागत से 31 ग्रामीण योजनाओं की स्वीकृति दी गई, इससे 6 हजार 8 ‘हर घर नल कनेक्शन‘ दिए जाएंगे। करौली में 43 गांवों लिए 41.80 करोड़ रुपये की लागत से 36 ग्रामीण योजनाओं की स्वीकृति दी गई, इससे 9 हजार 274 ‘हर घर नल कनेक्शन‘ दिए जाएंगे। वहीं बूंदी जिले में एक ग्रामीण परियोजना में ‘हर घर नल कनेक्शन‘ के लिए 2.34 करोड़ रुपये की स्वीकृति भी जारी की गई। इसके अलावा अलवर में 49 गांवों लिए 54.10 करोड़ रुपये की लागत से 47 ग्रामीण योजनाओं की स्वीकृति दी गई, इससे 11 हजार 859 ‘हर घर नल कनेक्शन‘ दिए जाएंगे।
श्री पंत ने बताया कि वृहद पेयजल परियोजनाओं के तहत बारां जिले में सिंगोला एनिकट आधारित पेयजल परियोजना के लिए 34.10 करोड़ रुपये की मंजूरी दी गई। इसमें 10 गांवों में 1367 ‘हर घर नल कनेक्शन‘ दिए जाएंगे। उन्होंने बताया कि सर्वे और डीपीआर तैयार कराने के कार्यों में चितौड़गढ़ में चम्बल नदी आधारित पेयजल परियोजना से 265 गांवों में 36 हजार 254 ‘हर घर नल कनेक्शन‘ के लिए 156.32 लाख तथा उदयपुर में सोम कमला अम्बा बांध से 164 गांवों में 26 हजार 41 ‘हर घर नल कनेक्शन‘ के लिए 112.28 लाख रुपये की स्वीकृति प्रदान की गई। जेजेएम की सपोर्ट गतिविधियों में वार्षिक योजना के तहत थर्ड पार्टी इंस्पैक्शन, आइईसी, क्षमता संवद्र्धन एवं सोशल ऑडिट जैसे कार्यों के लिए 297.55 करोड़ के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया।
बैठक में वीसी के माध्यम से भारत सरकार के जल शक्ति मंत्रालय के अधिकारियों के अलावा जल जीवन मिशन के मिशन निदेशक एवं मुख्य अभियंता (जेजेएम) श्री दिनेश कुमार गोयल, मुख्य अभियंता (विशेष प्रोजेक्ट्स) श्री दिलीप गौड़, मुख्य अभियंता (तकनीकी) श्री संदीप शर्मा, मुख्य अभियंता (जोधपुर) श्री नीरज माथुर, वित्तीय सलाहकार सुश्री कोमल आगरी और डब्ल्यूएसएसओ के निदेशक श्री हुकमचंद वर्मा भी जुड़े।

0 Comments