सिद्धि स्नातकोत्तर महाविद्यालय सागवाड़ा में वेदविद्या पीठ एवं महात्मा गांधी कोर्नर का शुभारंभ

सागवाडा। सिद्धि स्नातकोत्तर महाविद्यालय सागवाड़ा में वेदविद्या पीठ एवं महात्मा गांधी कोर्नर का फीता काट कर उद्घाटन कार्यक्रम हुआ। जिसमें मुख्य अतिथि गोविंद गुरु जनजातीय विश्वविद्यालय बांसवाड़ा के कुलपति प्रॉपेसर आई वि त्रिवेदी, अध्यक्षता महिपाल सिंह राव निदेशक विद्यापीठ बांसवाड़ा, विशिष्ट अतिथि देवीलाल  फलोद, सचिव वागड़ तकनीकी संस्थान अध्यक्ष सुरेश त्रिवेदी, विनोद त्रिवेदी, सुभाष फलोत एवं महाविद्यालय के प्राचार्य डॉक्टर हितेश पाटीदार थे। कार्यक्रम के प्रारंभ में भारतीय परंपरा के अनुरूप मां सरस्वती मां की प्रतिमा पर तिलक एवं माल्यार्पण कर  दीप प्रज्वलन का कार्यक्रम हुआ व अतिथियों का पगडी एवं शाल द्वारा स्वागत किया। स्वागत उद्बोधन विनोद त्रिवेदी ने दिया तथा उन्होंने महाविद्यालय के बारे में प्रारंभ से लेकर आज तक की समस्त गतिविधियों के बारे में बताते हुए कहा कि हमारे महाविद्यालय में गरीब बच्चे जिनके माता-पिता नहीं है उन्हें निशुल्क अध्ययन के बारे में बताया। वेद विद्यापीठ के प्रभारी डॉ दीनबंधु ठाकोर द्वारा वेद विद्यापीठ के समस्त डिप्लोमा कोर्स के बारे में जानकारी दी एवं कुलपति का आभार जताया। प्राचार्य हितेश पाटीदार द्वारा, कुलपति द्वारा विश्वविद्यालय वागड़ के लिए जो महारत प्राप्त हुई है, उच्च शिक्षा  के लिए  कुलपति का सराहनीय  योगदान बताया तथा वर्तमान परिपेक्ष में वेद के महत्व के बारे में बताया। कुलपति ने महाविद्यालय द्वारा लक्ष्य से ज्यादा प्रवेश को  गौरव की बात बताई तथा गांधी कॉर्नर में ऐतिहासिक कार्य करना बताया तथा वर्तमान समय में वेदों, योग विज्ञान कि महत्ता बताते हुए वेद विद्या पीठ कि भावी संकल्पना बताई। विश्वविद्यालय द्वारा और भी दायित्व दिए जाएंगे ऐसा बताया एवं महाविद्यालय के समस्त स्टाफ साथियों एवं छात्र-छात्राओं का धन्यवाद दिया कि उन्होंने वेद विद्यापीठ के बारे में बहुत सराहनीय कार्य किया है साथ ही उन्होंने विशेष श्रेणी कॉलेज में लाने के प्रयासों के बारे में बताया तथा कहा कि हम वर्तमान समय में कुछ कॉलेजों का चयन करेंगे जिसमें समस्त गतिविधियों के बारे में देख कर चयन करेंगे तथा साथ ही उन्होंने वागड़ क्षेत्र को ऊंचा करने में जितना हो सके उतना प्रयत्न करूंगा तथा वागड़ की उच्च शिक्षा को बढ़ावा देना मेरी प्रथम प्राथमिकता है और उच्च शिक्षा को लेकर हर संभव हर तरीके से प्रयास करूंगा। महिपाल सिंह राव अध्यक्ष द्वारा कुलपति के बारे में बताते हुए उन्हें कहा कि वागड़ से एक पहला व्यक्ति है जो कुलपति पद तक पहुंचा है तथा उनके निर्मल स्वभाव, व्यक्तित्व के बारे में बताते हुए कहा कि उन्होंने वागड श्रैत्र में आठ जगह वेद विद्यापीठ का अध्ययन कार्य प्रारंभ कराया जो एक तरह से इतिहासिक कार्य किया व उत्प्रेरक के रूप में हर हर समय सहयोग करते हैं साथ ही उन्होंने  महाभारत का उदाहरण देते हुए युद्ध में किस तरह कृष्ण ने बिना हथियार उठाए  जो उत्प्रेरक का कार्य करके युद्ध जीत लिया उसी प्रकार हमारे कुलपति द्वारा विद्वानों को उत्प्रेरण देते उत्प्रेरक का सराहनीय कार्य करते हैं।                   महाविद्यालय में संचालित वेद विद्यापीठ केंद्र प्रभारी डॉ. दीनबंधु ठाकुर, कर्मचारी ज्योतिष, डॉ.लोकेश कुमार भट्ट, योग विज्ञान में विकास जोशी, कर्मकांड में राजेश उपाध्याय का कुलपति द्वारा ऊपरणा ओढ़ाकर  सम्मान किया। इस अवसर पर नानू लाल माली, दिनेश यादव, मान सिंह सिसोदिया, विनोद व्यास, अनीता पाटीदार, मोनिका सोनी, गोपाल कुमार वसीटा तथा समस्त विद्यार्थी उपस्थित थे । संचालन डॉ, लोकेश कुमार भट्ट ने किया आभार देवीलाल फलोत ने व्यक्त किया।

0 Comments