Loading...

  • Wednesday July 06,2022

हंगामेदार रही जिला परिषद की पहली बैठक, कई मुद्दों पर बहस

Snow

चित्तौड़गढ़। पंचायत राज चुनाव के बाद जिला परिषद के गठन के साथ ही जिला परिषद की साधारण सभा की बैठक आज जिला परिषद के ग्रामीण विकास सभागार में आयोजित हुई। जिला प्रमुख सुरेश धाकड़ की अध्यक्षता में आयोजित बैठक हंगामेदार रही और विभिन्न मुद्दों पर जमकर हंगामा हुआ।
बैठक की शुरूआत से ही सुरेश धाकड़ अपने अंदाज में नजर आये। बैठक की शुरूआत में सभी मोबाईल साईलेन्ट मोड पर रखने के निर्देश दिये और अधिकारियों को बैठक में तैयारी के साथ आने की नसीहत दी। जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ज्ञानमल खटीक द्वारा बैठक के एजेंडे की शुरुआत की गई और महात्मा गांधी नरेगा योजना पर चर्चा हुई। जिस पर नरेगा के अधिशाषी अभियन्ता राजेश पुंगलिया ने जानकारी दी कि जिले में वन विभाग, सिंचाई विभाग और जल ग्रहण के प्रस्ताव प्राप्त हुए है। उन्होनें बताया कि जिले में कोरोना के बाद 1.40 लाख लेबर लगाई गई है। वहीं जिले में 1.80 जॉब कार्ड है। उन्होनें नरेगा के कार्यों में और भी तेजी लाने के लिए कहा। इस दौरान बैठक में मौजूद विधायक ललित ओस्तवाल ने सीतामाता अभ्यारण्य की दमदमा गेट से ग्रेवल सड़क बनवाने के लिए कहा। वहीं विधायक चन्द्र भान सिंह ने मेट के मामले में राजनीति करने और अधिकारियों द्वारा पसंदीदा मेट लगाये जाने का मुद्दा उठाया। इस दौरान एक जिला परिषद सदस्य ने रोजगार सहायक के स्थानांतरण का मुद्दा उठाया जिस पर विधायक आक्या और मुख्य कार्यकारी अधिकारी ज्ञानमल खटीक के बीच तीखी नोक झोंक हुई। विधायक आक्या ने इस दौरान कहा कि रोजगार सहायक का स्थानांतरण करने का अधिकार राज्य सरकार को नहीं बल्कि स्थानीय स्तर पर है। जिस पर खटीक ने आदेश होने की बात कही तो विधायक आक्या ने सदन की कार्यवाही रोकते हुए आदेश दिखाने की चुनौती दे डाली, काफी देर तक हुई नोक झोंक के बाद जिला प्रमुख सुरेश धाकड़ ने निर्देश दिये कि आईन्दा से रोजगार सहायकों के तबादलों में राजनीति नहीं की जाये। इस दौरान जिला कलक्टर केके शर्मा ने भी मेट लगाने के मामले में हस्तक्षेप करते हुए कहा कि प्रशिक्षित मेट को रोटेशन के आधार पर लगाया जाये। इस दौरान भैंसरोडग़ढ़ प्रधान ने सामग्री मत बढ़ाने की भी अपील की। बैठक के दौरान जिला कलक्टर केके शर्मा, विधायक चन्द्रभान सिंह, अर्जुन जीनगर, ललित ओस्तवाल, उप जिला प्रमुख भूपेन्द्र ङ्क्षसह बड़ौली सहित विभिन्न पंचायत समितियों के प्रधान, जिला परिषद सदस्य और विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहे। बैठक की शुरुआत में मुख्य कार्यकारी अधिकारी ज्ञानमल खटीक ने प्रथम बार सदन में आये जिला प्रमुख, उप जिला प्रमुख और सदस्यों का बुके भेंट कर स्वागत किया।

0 Comments