उदयपुर जिले में एक उपप्रधान ऐसा भी: न उंगलियां न हथेली फिर भी चलाते है दुपहिया,चारपहिया वाहन

कुराबड़।उदयपुर जिले का एकमात्र उपप्रधान ऐसा है  जिसकी न तो उंगलियां न हथेली फिर भी हौसले से दुपहिया और चार पहिया वाहन बेझिझक ,निडर होकर चलाते है ।  ऐसा ही उदाहरण कुराबड़ पंचायत समिति के उपप्रधान  भेरू लाल मीणा हे |41 वर्षीय मीणा के दोनों हाथ की हथेलिया नही हे,और हथेलियो का पिछला हिस्सा ही उनकी हिम्मत और हौसला हे|  बचपन में गुड़ खाने के शौक ने उनके हाथ लील लिए| खेत चोरी छिपे पर गुड़ खाने गए अचानक गुड़ बनाने की जलती भट्टी में गिर गए ,जिसमे मीणा झुलस गए और अपने हाथ गवाने पड़े| जब दोनों हाथ खत्म हो गए तो   परिवार वालो ने उनके प्रति कुछ ना करने की हिम्मत खो चुके थे| बस उसी दिन भेरू ने प्रण लिया की मुझे कुछ कर दिखाना हे वही संकल्प ही मीणा की उम्मीद की किरण बन गया | जिद से परिवार  वालौ ने उन्हें स्कुल में दाखिल करा दिया| बस और म लक्ष्य अर्जुन के तीर के समान था जो उस मछली के आखो को भेदना था| वही लक्ष्य में लेकर पढ़ाई की और दसवी उत्तीर्ण की |  फिर मन मे तम्मना थी की मोटरसाइकिल या गाड़ी चलाऊ तो आज मीणा मोटर साईकिल तो बड़ी मुस्तैदी से चलाते हे हाथ नही होते हुए भी आगे के भाग को पकड़ कर चलाते हे| और आज कार जीप ट्रक तक मीणा बिना संकोच किये चला देते हे| ये किसी भी अचरज से कम नही हे।2005 में पहला अवसर मिला और सरपंच पद पर काबिज हुए और 2015 फिर दुबारा सरपँच बने। इस बार कुछ हटकर करने की सोची और पंचायत समिति सदस्य के लिए चुनाव लड़ा व पहली बार ही उपप्रधान बन गए।

3 Comments

nice बहुत बहुत बधाई हो

Kanti khair

December 12,2020 at 6:50 am

hathon ki lakiro pe mat ja galib taqdire unki bhe hoti hai jinke hath ni hote kch esa udaran persent kr dikhaya hai humare uppardhan bherulal ji

Rajpal meena

December 12,2020 at 3:48 pm

nice dher sari shubkamnaye

Rajpal meena

December 12,2020 at 3:48 pm