जनजाति विद्यार्थियों के लिए नीट व जेईई की कोचिंग शुरू, देश के प्रतिष्ठित एलन कोचिंग संस्थान से निःशुल्क कोचिंग

जनजाति विद्यार्थियों के लिए नीट व जेईई की कोचिंग शुरू
देश के प्रतिष्ठित एलन कोचिंग  संस्थान से निःशुल्क कोचिंग
उदयपुर, 9 नवंबर/जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग द्वारा नीट व जेईई की कोचिंग के लिए एलन कोटा द्वारा कोचिंग सोमवार से शुरु की गई।  
जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग आयुक्त जितेन्द्र कुमार उपाध्याय ने बताया कि विभाग द्वारा 200 प्रतिभाशाली जनजाति विद्यार्थियों को एलन कोचिंग संस्थान द्वारा ऑनलाईन कोचिंग प्रारम्भ की गई है। उन्होंने बताया कि इस कार्य हेतु नीट व जेईई के अलग-अलग समूह बनाये गये हैं तथा पृथक से इन्हें अपनी कक्षा 11वीं की पढ़ाई के साथ ऑनलाईन कक्षाएं सायं 4 बजे से 7 बजकर 20 मिनिट तक लगाई जाएगी।
स्कूली शिक्षा के साथ मिलेगी नीट व जेईई की कोचिंग:
विभाग की अतिरिक्त आयुक्त अंजली राजोरिया ने बताया कि जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग जनजाति प्रतिभाओं को तराशने के लिए यह निःशुल्क कोचिंग दे रहा है। इसमें राज्य से 100 विद्यार्थी कोटा एवं 100 विद्यार्थी उदयपुर में एलन फेकल्टी द्वारा कोचिंग प्राप्त करेंगे। यह एक अनूठी पहल है तथा विभाग की प्राथमिकता भी है जिससे इन बच्चों को कक्षा ग्यारह एवं बारहवी तक अपनी पढ़़ाई के साथ-साथ कोचिंग फाउण्डेशन कोर्स करवाया जावेगा।
एलन के निदेशक नवीन माहेश्वरी ने वेबिनार में कोचिंग के विस्तृत कार्यक्रम के बारे में बताया कि एलन में ‘आशा‘ कार्यक्रम तथा ‘गुदड़ी के लाल‘ योजनान्तर्गत गरीब एवं वंचित वर्ग के विद्यार्थियों को निःशुल्क कोचिंग प्रदान की जाती हैं। सम्पूर्ण देश में कोटा संस्थान द्वारा लाखों विद्यार्थियों को कोचिंग दी गई तथा संस्थान ने चयन में कई कीर्तिमान बनाये हैं।
अतिरिक्त आयुक्त डॉ. वृद्धि चन्द गर्ग ने बताया कि कोविड-19 महामारी के कारण विद्यालयों में अध्ययन नहीं होने से इन्हें ऑनलाईन कोचिंग प्रदान की जा रही हैं। एलन संस्थान की ओर से तुषार पारीक एलन करियर संस्थान ने विद्यार्थियों की विभिन्न शंकाओं का निराकरण किया एवं प्रश्नोत्तर सत्र में सम्पूर्ण कार्य योजना प्रस्तुत की। वेबीनार दौरान आशा परियोजना एवं गुदड़ी के लाल अन्तर्गत सफल रहे मनोहर लाल बुनकर, सुनील मीणा, रुपा यादव आदि ने भी विचार रखें।

0 Comments