Loading...

  • Thursday August 11,2022

नीमड़ी गांव में चरनोट भूमि पर लोग जमा रहे है कब्जे, प्रशासन रोकने में नाकाम

 
भींडर। भींडर पंचायत समिति की गा्रम पंचायत चारगदिया के नीमड़ी गांव में एक युवक ने चरनोट जमीन पर स्थित भूखण्ड का फर्जी पट्टा बनाकर एक महिला को बेच कर लाखों रू. कमा लिये। भूखण्ड पर खरीददार महिला ने छत लेवल तक घर का निर्माण कार्य भी करवा लिया। लेकिन गा्रमीणों की शिकायत पर पंचायत के पटवारी, सचिव ने मौके पर जाकर मुआयना किया तो जमीन चरनोट में निकली जिस पर कार्य रूकवा दिया गया। दरअसल, गा्रम पंचायत चारगदिया के राजस्व गांव नीमड़ी बस स्टेण्ड के पास खसरा संख्या 1408 की 13 बीघा 8 बिस्वा जमीन चरनोट दर्ज है। जिस पर नीमड़ी गांव निवासी रणजीत चैबीसा ने एक 1350 वर्गफीट के भूखण्ड का सन् 1999 का फर्जी पट्टा बनवाकर उसे गांव की ही महिला लक्ष्मीबाई पत्नी वरदीचंद मेघवाल को 4 लाख 30 हजार रू. में बेच कर रजिस्ट्री करवा दी। महिला ने इस पर मकान का निर्माण भी करवाया गया लेकिन गा्रमीणों ने शिकायत पर पंचायत के पटवारी, सचिव ने कार्य रूकवा दिया। 
महिला काट रही है पंचायत के चक्करः- महिला ने घर के निर्माण कार्य को पूरा करवाने के लिये बैंक से  ऋण लेने हेतु अनापति प्रमाण के लिये पंचायत के समक्ष लेकिन भूखण्ड चरनोट भूमि में होने से महिला को प्रमाण पत्र भी नहीं मिल पा रहा है। और महिला पंचायत के चक्कर काटने पर मजबूर है।
कार्यवाही नहीं होने से कब्जेधारियों के हौसले बुलंदः-  ग्रामीणों ने बताया कि नीमड़ी गांव में  लोग चरनोट भूमि पर लगातार कब्जा कर रहे है। जिससे चरनोट जमीनों का क्षैत्रफल सिकुड़ता जा रहा है। पशुओं के चरने के लिये भी जगह नहीं बची है। गा्रमीणों ने बताया की  प्रशासन की मिलीभगत होने से कब्जेधारियों पर कार्यवाहीं नहीं होती है जिससे उनके हौसले बुलंद है। कई बार तहसीलकार्यालय में इन अतिक्रमणांे की शिकायत कर चुके है। गा्रमीणों ने ऐसे फर्जी निर्माणों को ध्वस्त करने की मांग की है।
इनका कहना हैः-
भूखण्ड चरनोट में होने से महिला को ऋण के लिये एनओसी नहीं मिल पा रही है। और इस भूखण्ड का पट्टा पंचायत के रिकाॅर्ड में नहीं है। 
                                - बोलताराम मीणा,गा्रम पंचायत सचिव,चारगदिया
मेरे कार्यकाल में बांटे गये पट्टों का रिकाॅर्ड पंचायत में दर्ज है। यह पट्टा मेरे द्वारा दिया गया नहीं है। इस पर मेरे फर्जी हस्ताक्षर है।   
                            - लाली देवी जाट, पूर्व सरपंच, चारगदिया
ग्रामीणों शिकायत पर मैनें मौके पर जाकर देखा जिस पर भूखण्ड चरनोट में निकला तो कार्य रूकवाकर निर्माणकर्ता को पाबंद किया।  
                        - रमेश चंद्र, पटवारी, हल्का गा्रम पंचायत चारगदिया

0 Comments