Loading...

  • Thursday August 11,2022

6 हफ्ते का हो सकता है कैंप, ट्रेनिंग में सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट वाले वे खिलाड़ी होंगे, जो ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए चुने जा सकते हैं

टीम इंडिया के खिलाड़ी दुबई में जाकर ट्रेनिंग कर सकते हैं। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट वाले खिलाड़ियों का कैंप दुबई में करा सकता है। रिपोर्ट्स के अनुसार, यूएई आईपीएल की मेजबानी की रेस में भी सबसे आगे है। ऐसे में बीसीसीआई खिलाड़ियों की फिटनेस को ध्यान में रखते हुए वहीं कैंप शुरू करने की योजना बना रहा है।

टीम मैनेजमेंट चाह रहा है कि किसी भी सीरीज के शुरू होने से पहले खिलाड़ी कम से कम 6 हफ्ते की ट्रेनिंग करें। इस कैंप में वे ही खिलाड़ी शामिल होंगे, जिनके दिसंबर में ऑस्ट्रेलिया टूर पर जाने वाली टीम में चुने जाने की उम्मीद है। टीम के गेंदबाजी कोच भरत अरुण पहले ही कह चुके हैं कि गेंदबाजों को मैच फिटनेस हासिल करने के लिए कम से कम 6 हफ्ते लगेंगे।

आईपीएल का वेन्यू डिसाइड होने की देरी
सूत्रों के अनुसार, यूएई में आईपीएल हो चुका है। अगर मुंबई में हालात बेहतर नहीं होते तो यूएई में टी-20 लीग हो सकती है, इसलिए वहां कैंप लगना संभव है। जैसे ही आईपीएल का वेन्यू डिसाइड हो जाता है, चीजें तेजी से आगे बढ़ेंगी। इस बीच, आईपीएल की फ्रेंचाइजी भी चाहेंगी कि खिलाड़ी उनके कैंप में हिस्सा लें। ऐसे में लॉजिकली बीसीसीआई के लिए लंबा नेशनल कैंप आयोजित करना संभव नहीं होगा। ऐसी भी उम्मीद है कि बीसीसीआई आईपीएल के कैंप के दौरान खिलाड़ियों की फिटनेस पर नजर रखने के लिए अपना सपोर्ट स्टाफ भेज सकता है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
ऋषभ पंत और सुरेश रैना पहले ही ट्रेनिंग शुरू कर चुके हैं। इनके अलावा तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा और चेतेश्वर पुजारा भी ट्रेनिंग कर रहे हैं।
Read More

0 Comments