Loading...

  • Monday August 15,2022

2 लाख करोड़ डॉलर के मार्केट कैप वाली दुनिया की पहली कंपनी बन सकती है एपल, चार साल में हासिल होगी यह उपलब्धि

सर्विसेज और वियरेबल्स कारोबार में ग्रोथके दम पर अमेरिकी टेक कंपनी एपल 2 लाख करोड़ डॉलर के मार्केट कैपिटलाइजेशन (एमकैप) वाली दुनिया की पहली कंपनी बन सकती है। मार्केट रिसर्च फर्म एवरकोर आईएसआई की एक रिपोर्ट में यह बात कही गई है। रिपोर्ट के मुताबिक, एपल अगले चार साल में यह उपलब्धि हासिल कर सकती है। एपल अमेरिकी का पहली ऐसी कंपनी थी जिसने 2018 में 1 लाख करोड़ डॉलर के एमकैप का आंकड़ा पार किया था।

चार साल में 100 बिलियन डॉलर का हो सकता है एपल का सर्विसेज कारोबार

एनालिस्ट अमित दरयानानी की रिपोर्ट के मुताबिक, एयरपॉड्स और एपल वॉच के विस्तार के दम पर अगले चार साल में एपल का वियरेबल्स कारोबार बढ़कर 60 बिलियन डॉलर हो सकता है। वहीं सर्विसेज कारोबार बढ़कर 100 बिलियन डॉलर का हो सकता है। एनालिस्टको उम्मीद है कि एपल आक्रामक तरीके से स्टॉक का बायबैक करेगी। अभी कंपनी का एमकैप 1.4 लाख करोड़ डॉलर के करीब है।

शेयरों की संख्या में कटौती जारी रखेगी एपल

ऐनालिस्टका कहना है कि इस अवधि में एपल अपने शेयरों में 1 बिलियन की कटौती कर सकतीहै। एनालिस्टके मुताबिक, एपल वित्त वर्ष 2019 के 4.6 बिलियन के मुकाबले वित्त वर्ष 2024 में शेयरों की संख्या को कम करके 3.6 बिलियन पर ला सकतीहै। दरयानानी के मुताबिक, यदि एपल का स्टॉक प्राइस 550 डॉलर प्रति शेयर के पार चला जाता है तो इस शेयर संख्या के आधार पर कंपनी का एमकैप 2 लाख करोड़ डॉलर के पार चला जाएगा। अभी एपल का स्टॉक प्राइस 321.85 डॉलर प्रति शेयर पर कारोबार कर रहा है।

सर्विसेज सेक्टर स्थापित करेगा नया ट्रेंड

रिपोर्ट में कहा गया है कि सप्लाई और मांग में अनिश्चितता के कारण आईफोन की बिक्री घटी है। वहीं सर्विसेज सेगमेंट ऐपल के लिए नए ट्रेंड स्थापित कर रहा है। इस साल की मार्च तिमाही में एपल के सर्विसेज सेक्टर में वार्षिक आधार पर 17 फीसदी की ग्रोथ दर्ज की गई है। इस अवधि में सर्विसेज सेक्टर से एपल को 13.3 बिलियन डॉलर का रेवेन्यू मिला है। कंपनी ने अपनी सर्विसेज कैटेगिरी में ऐप स्टोर, एपल म्यूजिक, एपल वीडियो, एपल क्लाउड सर्विसेज, एपलकेयर, एपल टीवी प्लस, एपल आर्केड, एपल न्यूज प्लस और एपल कार्ड में नए रिकॉर्ड स्थापित किए हैं।

एपल टीवी प्लस और एपल न्यूज प्लस में लगातार बढ़ रहे यूज

एपल के सीएफओ लूका मैस्त्री के मुताबिक, नई सेवाओं जैसे एपल टीवी प्लस, एपल आर्केड, एपल न्यूज प्लस और एपल कार्ड से लगातार नए यूजर जुड़ रहे हैं। एपल के प्लेटफॉर्म्स पर अब करीब 515 मिलियन पेड सब्सक्रिप्शन हैं। इनकी संख्या एक साल पहले 125 मिलियन थी। वियरेबल्स, होम एंड एसेसरीज सेगमेंट ने भी मार्च तिमाही में रिकॉर्ड बनाते हुए 6.3 मिलियन का राजस्व जुटाया हैऔर वार्षिक आधार पर इसमें 23 फीसदी की ग्रोथ रही है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
ऐपल के प्लेटफॉर्म्स पर अब करीब 515 मिलियन पेड सब्सक्रिप्शन हैं। इनकी संख्या एक साल पहले 125 मिलियन थी।
Read More

0 Comments